निबंध हिंदी

Essay on Mahashivratri in Hindi Speech, Paragraph | महाशिवरात्रि के महत्त्व पर हिंदी निबंध

महाशिवरात्रि के महत्त्व पर हिंदी निबंध

फरवरी महीना ढेर सारी खुशिया लाता है और साथ में बसंत ऋतु को भी साथ में लेकर आता है. इन २-३ महीनो में हम भारतीयों कई त्यौहार मानते है जैसे की मकर संक्रांति, बसंत पंचमी, और होली. महा शिवरात्रि ऐसा ही एक बड़ा त्यौहार है जो फरवरी और मार्च के बिच में मनाया जाता है. इस साल २०१८ में हम महा शिवरात्रि मंगलवार, १३ फ़रवरी को मनाएंगे. इस दौरान स्टूडेंट्स को महाशिवरात्रि के विषय निबंध लिखने का होमवर्क मिलता है. और इसीलिए आपकी मदद करनेके लिए हमने महाशिवरात्रि विषय पर ये एक निबंध लिखा है.

महा शिवरात्रि के महत्त्व पर निबंध

भारत रंगोंका परम्पराओंका और त्योहारों का देश है. हम भारतीय बड़ी ही ख़ुशी और उत्साह से भिन्न भिन्न प्रकार के त्यौहार मनाते है. हमारे त्यौहार हमारी परम्पराओ और विश्वास का मिश्रण है और हर त्यौहार का अपना एक महत्त्व है. महाशिवरात्रि एक बड़ा हिन्दू त्यौहार है जिसमे लोग भगवान शंकर और देवी पार्वती की पूजा करते है. शिवरात्रि अन्धकार और बुराई पर जीत का प्रतिक है. भक्त गण शिवरात्रि के दिन उपवास, पूजा और भगवान् शंकर की प्रार्थना करते है. महाशिवरात्रि  हिन्दू कैलेंडर के अनुसार फाल्गुन महीने में अमवस्या की एक रात पहले मनाई जाती है. जोकि ग्रेगोरियन कैलेंडर के अनुसार फ़रवरी और मार्च महीने में पड़ता है.

महाशिवरात्रि पुरे देश में बड़े ही उत्साह से मनाई जाती है. भारत के उत्तरी विभागों में इस दिन को हेराथ या हेरथ के नाम से भी बुलाया जाता है. नेपाल में भी यह दिल सार्वजानिक छुट्टी का दिन होता है और बड़े ही उत्साह से मनाया जाता है.भक्त गण भगवान शंकर के मंदिरो में पूजा करने के लिए जाते है. पशुपतिनाथ मंदिर भगवान शंकर के भतो में बहोत प्रसिद्ध है और शिवरात्रि की दें भक्तो की बहुत बड़ी भीड़ रहती है. पशुपतिनाथ भगवान शिवजी का एक अवतार है और वह नेपाल के अनौपचारिक राष्ट्रीय देवता भी है. वह काठमांडू के पूर्वीय इलाके में काठमांडू नदी के तट पर स्थित है. कई सारे भारतीय भक्त इस मंदिर को भेट देते है.

महाशिवरात्रि का महत्त्व

महाशिवरात्रि के बारे में कई दंतकथाएं प्रसिद्ध है. कई लोग यह मानते है की महाशिवरात्रि के दिन भगवान शंकर ने तांडव नृत्य किया था. दूसरी किवदंती के अनुसार इसी रात भगवान शंकर और देवी पार्वती का विवाह हुआ था. और एक कहानी के अनुसार इसी दिन भगवान शंकर कैलाश पर्बत में रूपांतरित हुए थे. दूसरे त्योहारों के विपरीत महाशिवरात्रि रात को मनाई जाती है. यह हम को ध्यान, उपासना, स्वयं अध्ययन करने के लिए प्रोत्साहित करता है.

महशिवरात्रि उपवास तथा व्रत का महत्त्व

महाशिवरात्रि के दिन भक्त पूरा दिन उपवास करते है. कुछ लोग सिर्फ दूध या फल का सेवन करते है और कुछ लोग तो दिनभर बिना कुछ खाये उपवास करते है और कुछ पानी एक बून्द भी ग्रहण नहीं करते. लोगो का ऐसा मानना होता है की महाशिवरात्रि जैसे पवित्र दिन पर उपवास करने और भगवान शंकर जी की आराधना करने से उनके सारे पाप धूल जाते है और उन्हें जीवन मृत्यु के चक्र से मुक्ति मिलती है. महाशिवरात्रि विवाहित महिलाओ के लिए बहोत ही शुभ मानी जाती है, इस दिन विवाहित महिलाए अपने पति की खुशहाली के लिए प्रार्थना करती है. इस दिन कुमारिका भगवान शिवजी की पूजा करके उनके जैसा पति मिलने की प्रार्थना करती है.

भारत में महाशिवरात्रि का उत्सव

महाशिवरात्रि पुरे भारत में बड़े ही उत्साह से मनाई जाती है. शिव जी के मंदिरोंके पास मेलोंका आयोजन किया जाता है ताकि लोक अपनी सारी चिंताए छोड़कर कुछ समय के लिए अपने परिवार के साथ अच्छा वक्त बिताये. कई लोग महाशिवरात्रि के दिन भगवान शंकर जिकी तीर्थ यात्रा पर भी जाते है. वाराणसी और सोमनाथ मंदिर ये दो ज्योतिर्लिंग शिवभक्तो में काफी लोकप्रिय है.

ईशा फॉउण्डेशन नामक एक संस्था महाशिवरात्रि के दिन एक बड़े समारोह है आयोजन करती है. भारत और विदेश से कई लोग इस आयोजन का लुफ्त उठाने के लिए वह भेट देते है . ईशा योग सेंटर में आदियोगी शिवा की ११२ फुट ऊँची शिवजी की मूर्ति है.

Tips of Essay on Mahashivratri Festival in Hindi

  1.  निबंध के विविध प्रकार होते हैं, और उस प्रकार के अनुसार आपको निबंध लिखना होता है |
  2. निबंध प्रमुखतः तीन सेक्शन में विभाजित होतें है, परिचय या प्रस्तावना, कोर सेक्शन और निष्कर्ष.

Tip for Speech on Mahashivratri Festival in Hindi

  1. अगर आप पहिली बार भाषण दे रहें तो, दोस्तोंके सामने इसकी प्रैक्टिस कीजिये, अगर आपके मदत के लिए कोई नहीं है तो आप आयने के सामने भी प्रैक्टिस कर सकते हैं|
  2. हमारा आपसे अनुरोध है की, हो सके तो भाषण का दिया गया विषय समझने की कोशिश कीजिये| भाषण का रट्टा मत मारिये, इससे आपको कुछ हासील नहीं होगा, आपका भाषण रोबोटिक लगेगा और इससे आप आपके ऑडियंस से कनेक्ट नहीं कर पाएंगे|

अगर आपको मेरा यह जानकारी देने का प्रयत्न अच्छा लगा हो तो कृपया इस आर्टिकल को निचे रेटिंग दीजिये. निचे कमेंट सेक्शनमें आप आपके विचार तथा सुझाव हमे दे सकते है. धन्यवाद. 🙂

Liked the Post? then Rate it Now!!
[Total: 1 Average: 1]

Didn't find what you were looking for?

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

About the author

Ajay Chavan

प्रणाम दोस्तों, मैं हु अजय चव्हाण. मैं आप ही की तरह एक सरफिरा हु जो अपने ख्वाब पुरे करने और इस विश्व में अपनी पहचान बनाने निकल पड़ा हु.
मैं खुद को भाग्यशाली समझता हु की मेरी लिखाई लोगो के काम आती है.
और हां! मैं TeenAtHeart का Co-Founder और COO भी हु. :)