निबंध हिंदी

मैं स्वच्छता के लिए क्या करूं गी/करूँ गा? पर निबंध हिंदी में – २५० शब्द

मैं स्वच्छता के लिए क्या करूं गी करूँ गा

भारत सरकार ने ‘मैं स्वच्छता के लिए क्या करूं गी/करूँ गा?’ इस विषय पर २५० शब्द के १ करोड़ निबंध का लक्ष्य रखा है| ८ सितम्बर २०१७ मध्यरात्रि तक यह निबंध myGov पोर्टल पे जमा करवाना है| इस प्रतियोगिता में सब विद्यार्थी, आम आदमी, पुलिस कर्मी भाग ले सकते है | इस प्रकल्प का उद्देश्य स्वछता के बारेमे समाज में जागरूकता करना है| प्रधान मंत्री मोदी का यह उपक्रम सराहनीय है, देश के बच्चोमे स्वछता का पैगाम पोहचाने का यह एक बहोत ही अच्छा तरीका है| यह परियोजना प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के ‘संकल्प से सिद्धी’ कार्यक्रम के अंदर जारी की है, यह “नया भारत २०२२” का एक हिस्सा है|

स्कूल में टीचर्स बच्चोंको मैं स्वच्छता के लिए क्या करूं गी/करूँ गा? इस विषय पर २५० शब्द का निबंध लिखने के लिए कह रहे है, आपको शायद यह होम वर्क दिया होगा| और आप इंटरनेट के जरिये “मैं स्वच्छता के लिए क्या करूं गी/करूँ गा?” विषय पर सैंपल निबंध ढूढ़ रहे है, तो आप सही जगह आये है|

मैंने निचे दिया हुआ निबंध इसी कारण से लिखा है, यह पढके आप आपका खुदका निबंध लिख सकते है| मेरा आपसे अनुरोध है की आप इस निबंध को कॉपी पेस्ट मत कीजिये, इस निबंध प्रतियोगिता का उद्देश्य है की आप जैसे नौजवान और बच्चे स्वच्छता के बारे में सोचे, हम भारत के युवा ही स्वछता की क्रांति ला सकते है| यहां से आप रिफरेन्स ले सकते है और आपका खुदका एक सुन्दर निबंध लिख सकते है|

मैं स्वच्छता के लिए क्या करूं गी/करूँ गा? निबंध हिंदी में – २५० शब्द

जब मैं फिल्मों में या यूट्यूब पर साफ विदेशी शहरों और ग्रामीण इलाकों को देखता हूं तो मुझे आश्चर्य होता है कि ये जगह कितनी सुंदर और साफ है? स्विट्जरलैंड की हिमाच्छन्न पहाड़ियां, इटली की फूलों से सजी खिड़कियां और ऑस्ट्रेलिया के रेतीले समुद्र तट हमें अपनी सुंदरता और सफाई से मंत्रमुग्ध करते हैं। हमारे भारत में भी ऐसे अभूतपूर्व पर्यटन स्थलों, ऐतिहासिक स्मारकों, विरासत स्थलों और राजसी किलों की कमी नहीं है, लेकिन वे विदेशी समकक्षों की तरह क्यों नहीं दिखते?

देश को साफ करना केवल सरकार का काम नहीं है, यह हमारी भी ज़िम्मेदारी है| हम लोगों में स्वछता का भाव होना चाहिए पर यहीं हमारी बुनियादी समस्या है | हम सरकारको, दूसरे लोगों को दोष देते है, और खुद कुछ नहीं करते| मैंने हमारे देश के पिता से एक बात सीखी है..

वह बदलाव खुदमे पहले करो जो दुनिया में देखना चाहते हो – महात्मा गांधी

अगर मुझे मेरा देश स्वच्छ देखना है तो मुझे खुदमे परिवर्तन करना पड़ेगा, तब तक में दूसरोंमे उस बदलाव की आशा नहीं कर सकता| यह कुछ चीज़े हे जो मैं अपने देश को सुन्दर और स्वच्छ बनाने के लिए बदलूंगा|

में अपने घर में सूखे और गीले कचरे को अलग करूंगा और उसे कूड़ेदान में ही डालूँगा| मैं कोई भी कचरा सड़क पे, खिड़की से नहीं फेकूंगा| में यह कोशिश करूंगा की मेरे घर के सभी सदस्य भी इस चीज़ का अनुकरण करें| मैं हमारे कॉलोनी के अध्यक्ष से आग्रह करूंगा की यह नियम हमारो पुरे कॉलोनी में अनिवार्य करे|

मैं सड़क, स्कूल और सार्वजनिक स्थानों पर कूड़ा नहीं फेकूंगा। मैं चॉकलेट या कैंडी का आवरण अपनी जेब में रखूंगा और फिर कचरे के डिब्बे में डालूंगा।

मेरे फ़ोन में विविध प्रकार के सोशल मीडिया ऐप्स भरे पड़े है, उनपे मैं कभी डीपी चेंज करता हूँ तो कभी फोटोज पोस्ट करता हूँ| पर में अब इन माध्यमोंका का उपयोग स्वछता का सन्देश फैलाने के लिए भी करूंगा|

मैं अकेले पूर्ण भारत को साफ नहीं कर सकता लेकिन मेरे जैसे, यदि देश के लाखों युवा स्वयं को बदलने की प्रतिज्ञा लेते हैं तो कोई भी हमें दुनिया में सबसे स्वच्छ देश बनने से रोक नहीं सकता है। देश का भविष्य हमारे हाथों में है, मित्रों| मैं जब अपनी आँखें बंद करता हूं और कल्पना करता हूं कि वह भारत कैसा होगा, तो मुझे वह स्वर्ग सा प्रतीत होता है। तो चलो एक साथ मिलके हमारे अंदर एक छोटासा बदलाव लाएं जो इस बड़े सपने को साकार कर सकें|

मैं स्वच्छता के लिए क्या करूं गी/करूँ गा? निबद्ध के लिए टिप्स

टिपण्णी : इस निबंध से २५० से थोड़े ज्यादा शब्द है|

  • इस प्रतियोगिता के लिए, निबंध २५० शब्दों से अधिक नहीं होना चाहिए। निबंध सबमिट करने से पहले अपने शब्दों की गणना करें|
  • निबंध सबमिट करनेकी अंतिम तारीख ८ सितम्बर है|
  • आप यह निबंध निचे दिए हुए किसी भी भाषा में लिख सकते हैं: आसामी, बांगला ,बोडो, डोगरी, अंग्रेजी, गुजराती, हिंदी, कन्नड़, कश्मीर, कोंकणी, मैथिली, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, नेपाली, ओरिया, पंजाबी, संस्कृत, संथाली, सिंधी, तमिल, तेलुगु और उर्दू|
  • निबंध प्रस्तुत करते समय उचित भाषा, राज्य और अन्य हैशटैग अनिवार्य है। ज्यादा जानकारी यहाँ पढ़े |
  • नियम और शर्तें स्पष्ट रूप से कहते हैं कि निबंध आपका खुदका (ओरिजिनल) होना चाहिए। कॉपीराइट का उल्लंघन हुआ तो आपका निबंध अयोग्य घोषित कर दिया जाएगा।
  • आधिकारिक सरकारी वेबसाइटों से ही हमेशा प्रामाणिक जानकारी प्राप्त करें

Video Essay

We have created a special video essay on same topic, check it out..

यहां हमने “स्वच्छ भारत अभियान” पर निबंध लिखा है , इससे आपको मदद मिल सकती है …

Liked the Post? then Rate it Now!!
[Total: 5 Average: 4.2]

Didn't find what you were looking for?

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

6 Comments

About the author

Sueniel

He is a techie, geek or you can call him a nerd too. He likes to read, observe stuff and write about it. As Simple as that...

He is also CEO and Co-Founder of TeenAtHeart.