निबंध हिंदी

हिंदी निबंध के प्रकार – वर्णनात्मक, विवरणात्मक, प्रेरक, कथा निबंध

हिंदी निबंध के प्रकार वर्णनात्मक, विवरणात्मक, प्रेरक, कथा निबंध

निबंध लेखन छात्र जीवन का एक अभिन्न अंग है, हम प्राथमिक विद्यालय से लेकर विश्वविद्यालय स्तर की परीक्षाओं के लिए निबंध लिखतें हैं। कुछ विदेशी विश्वविद्यालय दाखिला प्रक्रियाओं के लिए निबंध लेखन का प्रयोग करतें है। निबंध लेखन का उपयोग बहोत सारे जॉब्स में भी होता है, जैसे के अगर आप एक पत्रकार, ब्लॉगर, कंटेंट राइटर हैं। यह एक कैरियर विकल्प भी हो सकता है।

निबंध के विभिन्न प्रकार जाननेसे से पहले हम यह समझने कोशिश करतें हे की निबंध लेखन महत्वपूर्ण क्यों हैं? हम इंसान एक विचारशील प्राणी है, बहुत सारे ख़याल हमारे मन में चलते रहतें है। लेकिन अगर कोई वह विचार व्यक्त करना चाहता है, तो यह बहुत आवश्यक हैं की उन विचारोंको सही ढंग से पेश किया जाएँ। निबंध लेखन उन्ही विचारोंको, ख़यालोंको, अनुभवोंको सुलझाकर बताने का मार्ग है, जिससे हम अपने वाचक हो अपना सन्देश पहुँचा सकें| ऐसे एक प्रमुख मानवीय गुण माना जाता है और यही कारण है कि निबंध लेखन पाठ्यक्रम और परीक्षाओं और यहां तक कि उच्च शिक्षा के चयन प्रक्रिया का अभिन्न अंग है।

तो चलिए अब हम जाननेकी कोशिश करतें हैं की, निबंध के कितने प्रकार होतें है और उनका महत्वा क्या है| कृपया ध्यान दें की निबंध के कई प्रकार हैं, लेकिन यहाँ हम उन्हें चार मुख्य श्रेणियों के तहत सूचीबद्ध करने की कोशिश करेंगे।

वर्णनात्मक निबंध / Descriptive Essay

वर्णनात्मक निबंध में, लेखक शब्दों के साथ एक तस्वीर पेंट करतें हैं, इस प्रकार ने निबंध के अंदर जादातर व्यक्तियों, भावनाओं, जगह, अनुभव, वस्तुओं, स्थितियों, यादों का वर्णन किया जाता है। यहाँ आप सिर्फ आपको दिए हुए विषय का वर्णन नहीं करते, आपको शब्दों के माध्यम से वाचक के दिल तक पहुँचने की कोशिश करनी होती है| विषय का वर्णन सुंदर शब्दों के साथ चित्रित करने की आवश्यकता होती है, और यह सुन्दर कैनवास पाठक को दिखाया जाता है।
उदाहरण: मेरी पहली यात्रा, सपना, मेरा दोस्त

कथा निबंध / Narrative Essay

कथा निबंध में, लेखक अपने स्वयं के अनुभवों के माध्यम से कहानी कहता है। इस प्रकार के निबंध आसान लगतें है, लेकिन यहाँ लेखक को अपने अनुभव सुन्दर शब्दोंके साथ सही ढंग से और सही सन्देश के साथ पहुँचाना होता है| अधिकांश समय, कथा निबंध पहले व्यक्ति में लिखे जाते हैं, जिससे आप वाचक के साथ एक वैचारिक संबंध बना सकतें है|
उदाहरण: स्कूल का पहला दिन, गर्मी की छुट्टी

विवरणात्मक निबंध / Expository Essay

विवरणात्मक निबंध में, लेखक दिए गए विषय को प्रस्तुत करता है और तथ्यों, सबूतों, संख्याओं, और उदाहरणोंके के साथ विषय की पुष्टि करता है। ऊपर ऊपर से यह निबंध प्रकार वर्णनात्मक निबंध के समान लगता है, लेकिन इस मामले में, आपको तथ्य और सबूत देने होतें हैं; लेखक इसमें अपनी भावनाओं को नहीं दिखा सकते, अपनी निजी राय नहीं दे सकते| रेखांकन, तुलना और विरोधाभास, कारण और परिणाम, वर्गीकरण निबंध आदि प्रकार भी इसी श्रेणी में तोले जाते है|
उदाहरण: भारतीय अर्थव्यवस्था, विमुद्रीकरण, जीएसटी का प्रभाव, इंटरनेट के दुष्परिणाम

प्रेरक निबंध / Persuasive Essay

इस प्रकार के निबंध में आपको आपके वाचक का मन परिवर्तन कराना होता है, उन्हें आपका विषय तथ्य और सबूत के साथ समझना होता है| प्रेरक निबंध में, आप विषय के दोनों पक्षों पर बहस कर सकते हैं, लेकिन मुद्दा यह है कि वाचक आश्वस्त होना चाहिए। संक्षेप में, लेखक ने वाचक को मनाने की कोशिश करनी होती है|
उदाहरण: आरक्षण, जीएसटी, सामाजिक मीडिया, जाति व्यवस्था

इसी तरह विचारात्मक, व्याख्या / परिभाषा, कैरियर, संपादकीय, ओप-एड्स, सचित्र निबंध आदि प्रकार के निबंध भी होतें है, लेकिन वह ऊपर दिए चार मूल वर्गोंमें शामिल किये जा सकें है|

हमें उम्मीद है कि इस लेख में आपको जो जानकारी चाहिए थी वह आपको मिली हो| अगर हमरा यह प्रयास आपको पसंद आया हो तो आप निचे दिए गए टिप्पणी बॉक्स में टिप्पणी कर सकते हैं, या आप अपने दोस्तों के साथ इस लेख को शेयर कर सकते हैं |धन्यवाद !!

Liked the Post? then Rate it Now!!
[Total: 112 Average: 3]

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

12 Comments

Secured By miniOrange